नाश्ते की दुकान में गरमा-गरम पोहा जलेबी, वडा पाव, आलू वंडे या फिर कोई हेल्दी-हेवी नाश्ता कौन नहीं करना चाहेगा। बात हो जाए बड़े शहर या छोटे शहर की, किसी बस स्टैंड या रेलवे स्टेशन की। हर जगह नाश्ते की दुकान होती ही है। अगर आप यह बिजनेस स्टार्ट करते हैं। तो कम से कम ₹30,000 प्रति महीना तो आप कमाएंगे ही। नाश्ते की डिमांड की विपरीत उसकी लागत होती है। जिसकी लागत बहुत ही कम होती है, और कमाई उतनी कि आपने सोचा भी नहीं होगा। 

सर्विस वाले और स्टूडेंट ज्यादातर बाहर ही अपने ब्रेकफास्ट के लिए बंधे होते हैं। उनके पास इतना वक्त नहीं होता कि वह अपने लिए खुद नाश्ता तैयार करें। केटली में चाय और स्वादिष्ट नाश्ते के साथ आप अपना यह बिजनेस शुरू कर सकते हैं।  सबसे ज्यादा खास बात इस बिजनेस में यह है कि आप दोपहर 1:00 बजे तक फुर्सत हो जाएंगे और फिर आप दूसरी चीजें भी कर सकते हैं जैसे टिफिन सर्विस या छोटी होटल।

दोपहर 1:00 बजे फुर्सत हो जाने के लिए सुबह 4:00 बजे से इसकी तैयारी भी करनी पड़ेगी। तो मेहनत का डटकर सामना करने के लिए तैयार हो जाए और हम शुरुआत करते हैं, कि नाश्ते की दुकान को कैसे सफल बनाएं।

नाश्ते की दुकान की शुरुआत 

तीन महत्वपूर्ण बिंदुए जो नाश्ते की दुकान खोलने से पहले आपको पता होना चाहिए।

नाश्ते की दुकान खोलने की जगह 

आपको अपनी दुकान भीड़ वाले इलाके मैं खोलना चाहिए। ऐसी जगह सामान्यता स्कूल, कॉलेज, बस टर्मिनल, रेलवे स्टेशन, सरकारी दफ्तर, प्राइवेट दफ्तर और मार्केट में होते हैं। सही जगह और सही वक्त पर, सही चीज अगर कस्टमर को दी जाए। तो वह दोबारा लौट कर जरूर आएगा। 

पकवान में टेस्ट 

इस प्रकार के बिजनेस में बहुत ही कम लागत होती है। तो बेहतर टेस्ट के लिए आप कुछ ऐसी चीजों का इस्तेमाल करें जिसका टेस्ट कस्टमर को हमेशा ही पसंद आता है। जैसे हल्की सी घी की खुशबू, मसालेदार ज़ायक़ा का या। अपने खाने के साथ थोड़ा बहुत एक्सपेरिमेंट करते रहें और अपने कस्टमर से ही उसका फीडबैक लें। इससे आप अपनी कला का बेहतर प्रदर्शन दिखा पाएंगे।

साफ सफाई का पूरा ध्यान

कोरोना के बाद से लोग अपनी सेहत का बहुत ध्यान रखते हैं।इसलिए साफ-सफाई का खाने की दुकान में बहुत महत्व है। इसमें खाने की प्लेट से लेकर उसे धोने तक का स्वच्छ प्रबंध होना चाहिए। लोगों के लिए साफ पानी  का भी ध्यान रखें।

किस प्रकार के पकवान आप रख सकते हैं?

ज्यादातर यह निर्भर करता है कि वहां के स्थानीय लोग नाश्ते में क्या खाना पसंद करते हैं। भारत के अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग पकवान ही पसंद किए जाते हैं इसलिए  यहां पर सारे ही नाश्ते के रूप में दिए जाने वाले पकवानों की लिस्ट बनाई गई है। आप इस लिस्ट में से अपने स्थानीय पकवान और दूसरे राज्य का भी चुन सकते हैं।

TIP: आप रोज के नाश्ते में अपना फ़ेमस स्थानीय पकवान ही बनाए । साथ में एक अलग मेनू बनाए, जिसमें हर दिन अलग पकवान बनाने की लिस्ट हो। ऐसा करने से आप यह जान सकेंगे कि, कितने लोगों को किस प्रकार के पकवान पसंद है, और आप उनकी अलग राशि रखकर। उनसे ज्यादा कमाई कर सकते है।

  • पोहा-जलेबी 
  • कांदा पोहा 
  • वडा पाव 
  • मूँग दाल का चीला
  • मिसल पाव (Misal Pav)
  • रावा उपमा 
  • समोसे
  • हेल्थी ओट्स 
  • रसीले आलू के साथ बेदमी पूरी
  •  ढोकला 
  • ब्रेड पकोड़े 
  • भाजी बड़े 
  • चाय-पराठा 
  • मंदुआ की रोटी 
  • नमकीन सेवैयाँ 
  • उत्तपम 
  • आलू पराठा 
  • दही चुरा 
  • ओट्स इडली 
  • दाल का पराठा 
  • मेथी का थेपला 

नाश्ते की दुकान के लिए सामान कहां से खरीदें?

आप के पकवान में सब्जियों की जरूरत है, तो उसे थोक भाव में मंडियों से खरीदें। किराना सामान के लिए होलसेल वालों से कांटेक्ट करें। 

शुरुआत में 20 लोगों के खाने के हिसाब से ही सामान मँगवाए। जैसे-जैसे लोगों को आपका खाना पसंद आएगा और आप लोगों का भरोसा जीत पाएंगे। तब आप कस्टमर की गिनती के हिसाब से अपना सामान बढ़ते जाना ।

 कुछ चीजें आप सेकंड हैंड लेकर शुरुआत करें। जैसे दुकान में लगने वाला सामान कड़ाही, झरिया, चम्मच, प्लेट, थाली आदि चीजें। ऐसी चीज है आपको बर्तनों की दुकान में ही मिल जाएगी या फिर आप किसी केटरिंग वाले से भी संपर्क कर सकते हैं।

नाश्ते की दुकान के लिए काग़ज़ात और लाइसेन्स 

कई वेबसाइट ऐसा दावा करेंगे, कि आपको कुछ सर्टिफिकेट लेना पड़ेंगे। परंतु ऐसा बिल्कुल नहीं है। वे लेना पड़ते हैं पर एक टर्नओवर की सीमा के बाद। आप चाहे तो हेल्थ एवं सेफ्टी का सर्टिफिकेट और शॉप एक्ट का प्रमाण पत्र ले लेवे । आपको बिजनेस शुरू करने के लिए इतना काफी है।

शॉप एक्ट के तहत सर्टिफिकेट :

 यह प्रमाण पत्र बिजनेस खोलने के लिए दिया जाता है। अगर आप किसी प्रकार का ठेला या फास्ट फूड वैन का इस्तेमाल करते हैं। तो आपको एरिया के हिसाब से शायद हफ्ता देना पड़े। 

हेल्थ एवं सेफ्टी का सर्टिफ़िकेट : 

इस तरह का सर्टिफिकेट सुनिश्चित करता है कि आप का खाना पूर्णता पोषणयुक्त और सुरक्षित है। यह आपको नगर निगम के द्वारा दिया जाएगा।

जब आपका कारोबार का 12 लाख से ऊपर का सालाना टर्नओवर होगा। तब आपको नीचे दिए गए सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ेगी ।

एफएसएसएआई (FSSAI) लाइसेंस :

 आपका खाना खाने लायक और गुणवत्ता लायक है या नहीं। इसके लिए FSSAI खाद्य पदार्थ वाली दुकान को लाइसेंस देती है। यह सर्टिफिकेट उन खाद्य बिजनेस में चाहिए पड़ता है, जिनका सालाना 12 लाख से ऊपर का टर्नओवर है। आने वाले समय में आपको इसकी जरूरत पड़ेगी ।

जीएसटी नंबर :

यह उन लोगों के लिए है जिन का बिजनेस का टर्नओवर 20 लाख से ऊपर है। उम्मीद करते हैं की जब आप 20 लाख से ऊपर कमाएंगे तो उसका कुछ हिस्सा आप paisaadda को भी देंगे। खैर अगर आप जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं तो यहां से कर सकते हैं। 

क़ीमत- 1,000 – 2,000 रुपय के बीच।

 अगर आप सर्टिफिकेट नहीं बनवाते, तो आपको भारी जुर्माना लग सकता है। इसलिए इसे जरूर बनवाए, नहीं तो शायद आप कहीं ना कहीं भ्रष्टाचार को सपोर्ट करेंगे। आप इसके लिए से यहां पर अप्लाई कर सकते हैं।

इस बिजनेस को स्टार्ट करने से पहले कुछ टिप्स का ध्यान रखें 

  1.  गूगल मैप पर अपनी लोकेशन जरूर डालें

जब भी कोई आपकी जगह पर कुछ खाने आएगा तो गूगल उसकी लोकेशन सेव कर लेता है। थोड़ी देर बाद गूगल, कस्टमर से रेटिंग और कॉमेंट लेता है। जिससे दूसरे लोगों को अच्छी जगह और बुरी जगह के बारे में पारदर्शिता रहे। याद रखे की उसमें ब्रेकफास्ट शॉप नाम अंग्रेजी में डालें।

दूसरा फ़ायदा यह है कि दूसरे शहर से आए लोग या शहर के दूसरे कोने से, जिन्हें उस एरिया के बारे में नहीं पता है। वे गूगल मैप  पर आपकी रेटिंग्स और रिव्यू देखकर। आपकी दुकान की तरफ खिंचे चले आएंगे।

  1. एक स्पेशल डिश

आप अपनी एक स्पेशल डिश पकवान में जरूर शामिल करें। यह स्पेशल डिश आपके आसपास किसी दूसरी दुकान में नहीं होनी चाहिए। 

  1. ऑनलाइन पेमेंट का ध्यान रखें

अगर आप सिर्फ ऑनलाइन पेमेंट रखते हैं तो आप पर एक बहुत अच्छा इंप्रेशन पड़ने वाला है। अंदाजा, आपकी उम्र 25 से 45  वर्ष की होगी। ज्यादातर लोग यह समझते हैं कि इस उम्र के लोगों को ऑनलाइन पेमेंट करना अच्छे से नहीं आता। पर जब आप करेंगे तो वह आपको पढ़े-लिखे और समझदार नागरिक समझेंगे। इससे आपके प्रति लोगों की सद्भावना बढ़ेगी। 

  1. फेमस होने के कुछ तरीके अपनाएं

डोमिनोस पिज़्ज़ा 30 मिनट के अंदर पिज़्ज़ा डिलीवरी करता है यह लोग लोगों को लुभाने और अपने ब्रांड को फेमस करने का तरीका है। स्टारबक्स कॉफी के कप में लोगों का गलत नाम प्रिंट करता है यह भी खुद को फेमस करने का पैंतरा था । आप भी अपना कोई पैंतरा निकालें जिससे लोग आपकी दुकान की तरफ खिंचे चले आए।

  1. अपनी दुकान में मिलने वाली सारी फैसिलिटी, टाइमिंग और मेनू को गूगल मैप पर डालें।

वक्त के साथ आपको भी टेक्नोलॉजी को अपनाना पड़ेगा, क्योंकि यह आपको बहुत ऊंचाइयों तक ले जा सकती है। इसलिए आपके बिजनेस की जो भी इंफॉर्मेशन है। वह सब कुछ ऑनलाइन गूगल पर या जस्ट डायल पर जरूर डालें। इससे लोगों को आपकी दुकान के ऊपर भरोसा होगा।

अगर आप ऐसी टिप्स को फॉलो करते हैं तो बाकी दुकानों के तुलना में आपकी  दुकान अलग दिखेगी।

नाश्ते की दुकान के लिए शुरुआती खर्चा 

महीने भर में 30 हजार से ऊपर तक की आमदनी देने वाला यह बिजनेस मात्र 10 हजार में बेसिक फैसिलिटी देने को तैयार है। पर अगर आप किसी दुकान को किराए पर लेते हैं तो  महीने का 5 से 7 हज़ार किराया और सिक्योरिटी मनी जो लगभग 1.5 से 4 लाख तक के बीच में हो सकती है।

नाश्ते की दुकान से कितनी कमाई हो सकती है?

 मान ले आपने 50 कस्टमर सुबह और 50 शाम को,  ₹20 के हिसाब से पोहा-जलेबी खाते हैं। जब आप गणित करेंगे तो आप पाएँगे कि यह  100 x 20 = 2,000 रुपय। 30 दिन का हिसाब, 2,000 x 30 = 60,000 रुपय होता है। अब अगर महीने भर का खर्चा 15000 हटा देते है। तो भी आप के पास ₹45000 बचेंगे और अगर आप एक हेल्पर रखते हैं और उसे 7,000 से ₹8000 भी देंगे तो भी मैं कम से कम 35,000 का अनुमान लगते है। जो सिर्फ आपके 100 कस्टमर से मिलेगा। 

तो अब यह आप समझ ही गए होंगे कि कोई भी धंधा छोटा नहीं होता। अगर आप सिर्फ़ 100 शॉप कस्टमर से 35000 कमा सकते हैं। तो सोचिए  दिन भर में 200 से कितना कमा सकेंगे। यह सिर्फ एक प्रकार की के पकवान से हिसाब लगाया है। इसे आप लाखों रुपए भी कमा सकते हैं।

नाश्ते की दुकान में जोखिम (risk)

बाहरी जोखिम के नाम पर आपके competitor (प्रतियोगी) और हफ़्ता लेने वाले हो सकते है। जो आपके बिजनेस में अर्चन डालेंगे। 

भीतरी जोखिम में आपके खाने का स्वाद, कस्टमर की तरफ रवैया,  साफ सफाई और आपके खाने की कीमत हो सकती है।इन वजह से आपके कस्टमर की गिनती कम हो सकती है। इसलिए छोटी सी छोटी बात का जरूर ध्यान रखें।

सुझाव 

 हम आपको यह सुझाव देंगे की शुरुआत में 4 से 5 महीने तक। आपके खाने पर लोगों का विश्वास कम होगा इसलिए अपना मन उदास ना करें और लगन मेहनत और भगवान पर भरोसा करके अपने बिजनेस को बढ़ाने के बारे में ही सोचे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.